Poets

Poet – Ranjeet Thakur

जिस तरह पानी अपना रास्ता तय करता है उसी प्रकार प्रतिभा भी किसी मंच का मोहताज नहीं होती, अगर आपके अन्दर प्रतिभा है तो वो भी अपना मंच खुद ही खोज लेती है, इसी कहावत को चरितार्थ कर रहे है ” रंजीत कुमार ठाकुर”।

रंजीत जी भी उसी भूमि से सम्बन्ध रखते है जिसने हमारे देश को”रामधारी सिंह दिनकर और बाबा नागार्जुन जैसे महान कवि दिए।

बिहार राज्य के छपरा जिले के छोटे से गाँव धनगरहाँ के एक मध्यमवर्गीय परिवार में जन्मे रंजीत ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा गाँव के ही सरकारी स्कूल से प्राप्त की। जब वह लोक महाविद्यालय हाफिजपुर से अपनी स्नातक की पढाई कर रहे थे, तभी से कॉलेज स्तर पर आयोजित वाद-संवाद और काव्य-पाठ में सक्रिय रूप से भाग लेने  लगे ।

धीरे-धीरे उनकी रूचि श्रृंगार रस में तर शब्दों के साथ डायरी और कापियों में घर करने लगी।

स्नातक की पढाई पूरी करने के बाद रंजीत,  हर दुसरे युवा की तरह अपने सपनों की नाव को पानी में उतारने के लिए देश की राजधानी दिल्ली आ गए।एक निजी बैंक में जॉब के अनुभव के साथ साथ हर मोड़ पर वो अपनी कविताओं को भी एक नई दिशा देने लगे. शुरुआत में उन्हें कोई मंच तो नहीं मिला लेकिन फेसबुक की टाइमलाइन पर उनके लिखे हुए शब्द लोगो को पसंद आने लगे।

लिखने की प्रेरणा उन्हें कवि गुरु डॉ कुमार विश्वास से मिला।

रंजीत जी की कविताये और गजले आपको जीवन के उन पहलुओ से सम्बन्ध स्थापित करने में मदद करती है जिन्हें कही न कही आपका दिल भी महसूस करना चाहता है।

उनके कविताओ और गजलो की ख़ास बात है की वे समाज के हर वर्ग के लोगो अपने आप से जोड़ने की ताकत रखती है।

Related Articles

17 thoughts on “Poet – Ranjeet Thakur”

  1. I would like to express my affection for your generosity supporting folks who must have help with the topic. Your real commitment to getting the solution all over appears to be exceptionally productive and has truly empowered those like me to achieve their dreams. Your personal warm and friendly advice entails so much a person like me and extremely more to my colleagues. Regards; from each one of us.

  2. I used to be more than happy to find this web-site.I wished to thanks on your time for this wonderful read!! I undoubtedly having fun with every little bit of it and I have you bookmarked to take a look at new stuff you weblog post.

  3. I would like to show my gratitude for your kind-heartedness in support of men who must have assistance with that topic. Your personal dedication to getting the solution around came to be surprisingly insightful and has usually empowered ladies much like me to reach their objectives. Your personal invaluable recommendations denotes this much to me and especially to my peers. Thanks a lot; from all of us.

  4. Thanks so much for giving everyone a very breathtaking opportunity to read articles and blog posts from this blog. It can be very useful and stuffed with a great time for me personally and my office peers to search your website at the least thrice weekly to find out the fresh items you will have. And of course, I am just certainly motivated considering the excellent concepts served by you. Some two points in this posting are without a doubt the most impressive we’ve had.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Enter Captcha Here : *

Reload Image

Check Also

Close
Close